Magrur Shayari 2 Line Mein – Hum Mud Ke Har Ek Shakhsh Ko Dekha Nahi Karte


मग़रूर कहती है तो कहती रहे दुनिया,
हम मुड़ के हर एक शख़्श को देखा नही करते।

Attitude Shayari – अगर तुम अपने पापा की “परी” हो तो हम

अगर तुम अपने पापा की “परी” हो, तो हम
भी अपने बाप के “नवाब” है !

Attitude Shayari – ये मत समझ कि तेरे काबिल नहीं हैं हम

ये मत समझ कि तेरे काबिल नहीं हैं हम,
तड़प रहे हैं वो अब भी जिसे हासिल नहीं हैं हम.

Attitude Shayari – किस्मतवालों को ही मिलती है पनाह मेरे दिल में


किस्मतवालों को ही मिलती है पनाह मेरे दिल में,
यूं हर शख़्स को तो जन्नत का पता नहीं मिलता……

1 2 3