Inspirational Shayari – अभी मुठ्ठी नहीं खोली है मैंने आसमां सुन ले


अभी मुठ्ठी नहीं खोली है मैंने आसमां सुन ले..
तेरा बस वक़्त आया है मेरा तो दौर आएगा…!!

Inspirational Shayari – बुलंदी तक पहुँचना चाहता हूँ मै भी

बुलंदी तक पहुँचना चाहता हूँ मै भी..!!
पर गलत राहों से होकर जाऊँ, इतनी जल्दी भी नही है..

Inspirational Shayari – सूरज ढला तो कद से ऊँचे हो गए साये

सूरज ढला तो
कद से ऊँचे हो गए साये,
कभी पैरों से रौंदी थी,
यहीं परछाइयां हमने..

Inspirational Shayari – ज़रूरतों की भूख जब पेट में शोर मचाती है


ज़रूरतों की भूख जब पेट में शोर मचाती है…
दिल की ख्वाहिशें कुछ – कुछ चुप सी पड़ जाती हैं..!!

1 2 3 31