Yaad Shayari In 2 Lines – न चाहकर भी मेरे लब पर ये फ़रियाद आ जाती है


न चाहकर भी मेरे लब पर ये फ़रियाद आ जाती है,
ऐ चाँद सामने न आ किसी की याद आ जाती है…

Leave a Reply